atal tunnel ( अटल सुरंग ) - विश्व की सबसे लम्बी सुरंग | shaurya missile ( शौर्य मिसाइल )

अटल सुरंग (Atal tunnel)


अटल सुरंग भारत में हिमाचल प्रदेश के रोहतांग में बनाया गया है ।

इसका उद्घाटन भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 3 अक्टूबर को किया गया। 

Play quize लोककला संस्कृति mcq

यह सुरंग समुद्र तल से सबसे ऊँचाई में स्थित सुरंग है।

अटल सुरंग विश्व की सबसे लंबी राजमार्ग सुरंग है इसकी लंबाई 9.02 km है।

इसका नाम भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी जी के नाम पर रखा गया ।

अटल सुरंग का पुराना नाम रोहतांग सुरंग था।

अटल सुरंग की आधारशिला भारत के पूर्व प्रधानमंत्री स्व अटल बिहारी बाजपेयी जी ने रखा था।
छत्तीसगढ़ राजयसभा चुनाव 2020
अटल सुरंग बनने से मनाली और लेह की बीच दूरी 46km कम हो गयी है।

अटल सुरंग बनाने में करीब 3300 करोड़ की लागत आयी ।

अटल सुरंग पूरे साल मनाली और लाहौल - स्फीतिघाटी को जोड़े रखेगी ।

इससे पहले भारी बर्फबारी के कारण बन्द रहती थी ।


विशेषताएं


अटल सुरंग की आकृति घोड़े की नाल जैसे है ।

दोनो पोर्टल पर सुरंग प्रवेश बैरियर है ।

हर 250 मीटर दूरी पर सीसीटीवी कैमरा है जो स्वत: घटना को पता लगाने वाला सिस्टम है।

हर 150मीटर दूरी पर टेलीफोन कनेक्शन बनाया गया है।

हर 60 मीटर पर अग्निशामक है ।

हर 1 किमी पर हवा की गुणवत्ता की निगरानी रखने वाला सिस्टम है ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 24 दिसंबर 2019 को पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई द्वारा दिए गए योगदान को सम्मान करने के लिए रोहतांग सुरंग का नाम अटल सुरंग रखने का निर्णय लिया।

मिसाइल शौर्य का सफलतापूर्वक परीक्षण


भारत में शनिवार 3 अक्टूबर को ओडिशा के बालासोर में परमाणु क्षमता से लैस बैलिस्टिक मिसाइल शौर्य  के नए संस्करण का सफलतापूर्वक परीक्षण कर लिया है। 

विशेषताएं


बताया जा रहा है कि यह मिसाइल 800 किलोमीटर की रेंज तक मार कर सकती है , और यह जमीन से जमीन से मार करने वाली मिसाइल है ।

शौर्य मिसाइल इतनी तेज है कि इसे सैटलाइट इमेजिंग के जरिए भी पकड़ा नहीं जा सकता। 

यह अपने साथ 200 किलोग्राम से 1000 किलो ग्राम परमाणु पैलोड ले जा सकती है.


हर 150मीटर दूरी पर टेलीफोन कनेक्शन बनाया गया है।

हर 60 मीटर पर अग्निशामक है ।

हर 1 किमी पर हवा की गुणवत्ता की निगरानी रखने वाला सिस्टम है ।

धन्यवाद! 
कोई भी सुझाव देने के लिए मेल करें gkcurrent3@gmail.com

Post a Comment

0 Comments