छत्तीसगढ़ राज्य का निर्माण

  • 1861 - 2 नवंबर 1861 को मध्य प्रांत का गठन हुआ. जिसमें छत्तीसगढ़ मध्य प्रदेश व महाराष्ट्र था जिसकी राजधानी नागपुर तथा छत्तीसगढ़ में रायपुर बिलासपुर एवं संबलपुर जिला का गठन किया गया .
  • 1862- इस दौरान 1862 में मध्य प्रांत में पांच संभाग बनाया गया जिसमें छत्तीसगढ़ एक स्वतंत्र संभाग बना जिसका मुख्यालय रायपुर बना.
  • 1905- में जशपुर, सरगुजा, उदयपुर, चांगभखार एवं कोरिया को छत्तीसगढ़ में मिलाया गया तथा संबलपुर को बंगाल प्रांत में मिलाया गया .छत्तीसगढ़ का सर्वप्रथम मानचित्र 1905 में बनाया गया.
  • 1918- में पंडित सुंदरलाल शर्मा ने छत्तीसगढ़ राज्य का स्पष्ट रेखा चित्र अपनी पांडुलिपि में खींचा अतः इन्हें छत्तीसगढ़ का प्रथम स्वप्नदृष्टा व संकल्पना कार कहा जाता है. 
  • 1939 में कांग्रेस का त्रिपुरी अधिवेशन में पृथक छत्तीसगढ़ का मांग रखा गया पंडित सुंदरलाल शर्मा द्वारा .
  • 1946 में ठाकुर प्यारेलाल ने पृथक छत्तीसगढ़ मांग के लिए छत्तीसगढ़ शोषण विरोध मंच का गठन किया जो कि छत्तीसगढ़ निर्माण हेतु प्रथम संगठन था. 
  • 1947 स्वतंत्रता के समय छत्तीसगढ़ मध्य प्रांत और बरार का हिस्सा था .
  • 1955 रायपुर के विधायक ठाकुर रामकृष्ण सिंह ने मध्य प्रांत के विधानसभा में पृथक छत्तीसगढ़ की मांग रखी जो की प्रथम विधायी प्रयास था.
  • 1956- मध्य प्रदेश के गठन के साथ छत्तीसगढ़ को मध्यप्रदेश में शामिल किया गया.
  • 1956- डॉक्टर खुबचंद बघेल ने राजनांदगांव में पृथक छत्तीसगढ़ मांग हेतु  छत्तीसगढ़ महा सभा का गठन किया इसके महासचिव दशरथ  चौबे थे .
  • 1967- डॉक्टर खूबचंद बघेल ने बैरिस्टर छेदीलाल की सहायता से राजनांदगांव में पृथक छत्तीसगढ़ हेतु छत्तीसगढ़ भातृत्व संघ का गठन किया जिसके उपाध्यक्ष द्वारिका प्रसाद तिवारी थे.
  • 1976- शंकर गुहा नियोगी ने पृथक  छत्तीसगढ़ हेतु छत्तीसगढ़ मुक्ति मोर्चा का गठन किया. 
  • 1983 -शंकर गुहा नियोगी के द्वारा छत्तीसगढ़ संग्राम मंच का गठन किया गया. पवन दीवान द्वारा पृथक छत्तीसगढ़ पार्टी का गठन किया गया.
  • 1994- तत्कालीन साजा विधायक रविंद्र चौबे के द्वारा मध्य प्रदेश विधानसभा में छग निर्माण सम्बन्धी अशासकीय संकल्प  प्रस्तुत किया गया  जो सर्वसम्मति से पारित हुआ .
  • 1998 -मध्य प्रदेश विधान सभा में संकल्प पारित किया गया.
  • 25 जुलाई 2000 को लोकसभा में विधेयक प्रस्तुत किया गया( श्री लालकृष्ण आडवाणी द्वारा )
  • 31 जुलाई 2000 लोकसभा में पारित किया गया .
  • 3 अगस्त 2000 राज्यसभा में विधेयक प्रस्तुत किया गया . 
  • 9 अगस्त 2000 राज्यसभा में पारित किया गे .
  • 25 अगस्त 2000 तत्कालीन राष्ट्रपति के आर नारायण के द्वारा अनुमोदित किया गया.
  • 1 नवंबर 2000 भारतीय संविधान के अनुच्छेद 3 के तहत  छत्तीसगढ़ राज्य की स्थापना मध्य प्रदेश राज्य से 44 साल बाद किया गया जोकि देश का 26वां क्रम के राज्य बना.
  • छत्तीसगढ़ राज्य मध्य प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम 2000 के तहत बना. 
  • छत्तीसगढ़ में मंत्रिमंडल का प्रथम बैठक 14 दिसंबर 2000 से  20दिसंबर 2000 तक राजकुमार कॉलेज के जशपुर हाल रायपुर में हुआ.

Comments

Post a comment

Popular posts

जनजाति विवाह

केशवानंद भारती कौन थे ? केशवानंद भारती बनाम केरल राज्य | Keshvanand Bharti vs Kerala state

छत्तीसगढ़ की भौगोलिक सीमा

छत्तीसगढ़ का इतिहास/प्रागैतिहासिक काल

CG GK YUVAGRIH जनजातियों का युवागृह -घोटुल ,धुम्कुरिया ,धाँगाबक्सर,रंगबंग,घसरवासा,गीतिओना

छत्तीसगढ़ राज्य में प्रथम । first in chhattisgarh state.

भारत का जैव भौगोलिक वर्गीकरण ( geographical classification of biodiversity) | जैव विविधता के तप्त स्थल /Hotspot of Biodiversity | वैश्विक जैव विविधता|जैव विविधता को क्षति / जैव विविधता का क्षरण आवासीय क्षति/ विखंडन

छत्तीसगढ़ का इतिहास/रामायण काल

छत्तीसगढ़ के साहित्य एवं साहित्यकार | chhattisgarh ke sahitya avam sahityakar | chhattisgarh me sahitya ka vikas | छत्तीसगढ़ में साहित्य का विकास

छत्तीसगढ़ के साहित्यकार एवं उनकी रचनाएँ प्रश्नोत्तर | chhattisgarh ke sahitya avam unki rachanayen 0ne liner part 1

loading...